जानिए क्या अटल इनोवेशन मिशन (AIM) और क्या है मिशन का उद्देश्य ?

योजना का परिचय
नीति आयोग के अटल इनोवेशन मिशन (AIM), ने 27 मार्च 2018 सैप के साथ आशय वक्त व्यअ (एसओआई) पर हस्तानक्षर किए जिसका उद्देश्य0 नवाचार एवं उद्यमिता की संस्कृिति को बढ़ावा देना है।

सैप के कर्मचारी स्व यंसेवक उन्नईत प्रौद्योगिकी से जुड़े विषयों में विद्यार्थियों को प्रशिक्षि‍त करने के साथ-साथ सैप लैब्सव इंडिया की डिजाइन लैब में उनका मार्गदर्शन भी करेंगे। इसके अलावा, सैप के कर्मचारी स्व यंसेवक विद्यार्थियों को प्रौद्योगिकी से जुड़े उपकरणों के बारे में व्यावहारिक अनुभव प्राप्तर करने का अवसर भी प्रदान करेंगे।

नीति आयोग ने अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) सहित स्व-रोजगार और प्रतिभा उपयोग (एसईटीयू) लॉन्च किया है। नीति आयोग ने इनवेंटर्स और डिजाइनरों से अपने डिजाइन तैयार उत्पादों को पेश करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं, जिनका मूल्यांकन तीन लंबवत – क्षमता, इरादा और अटल न्यू इंडिया चैलेंज के तहत प्रौद्योगिकियों को उत्पादित करने की क्षमता पर किया जाएगा।

क्या है मिशन का उद्देश्य ?
एसओआई के एक हिस्सेा के तहत सैप देश भर में माध्य्मिक स्कूंली बच्चोंग के बीच विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग एवं गणित (STEM) की शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से वर्ष 2018 में 100 अटल टिंकरिंग लैबों (ATL) की जिम्मेददारी पांच वर्षों के लिए लेगी। इस कार्यक्रम का उद्देश्य0 विद्यार्थियों को डिजिटल रूपांतरण एवं इंटरनेट ऑफ थिंग्सम जैसे कि डिजाइन थिंकिंग विधि, प्रोग्रामिंग लैंग्वेपज और अनुभवात्मक विज्ञान शिक्षण से संबंाधित उन्नइत प्रौद्योगिकी विषयों को सीखने में सक्षम बनाना है।
जानिए अटल टिंकरिंग लैब की विशेषताएं
• अटल टिंकरिंग लैब की स्थापना का लक्ष्य 500 समुदायों और स्कूलों में 250,000 युवाओं को भविष्य के लिए अभिनव कौशल प्रदान करना है।
• युवाओं द्वारा तैयार की गई परियोजनाओं में गुणवत्तापूर्ण सुधार के लिए परामर्शदाताओं के क्षमता निर्माण और मेकर इकोसिस्टम के साथ संपर्क कायम करने, अवधारणा तैयार करने, डिजाइन के बारे में चिंतन करने और उद्योग जगत के विशेषज्ञों के माध्यम से कार्यशालाएं आयोजित करने में इंटेल की ओर से नीति आयोग को सहायता मिलेगी।
• इसके अलावा इंटेल एक इनोवेशन फेस्टिवल का सह-नेतृत्व करेगा, जिसमें 500,000 युवा अन्वेषक अपनी पहुंच कायम कर सकेंगे।
• नीति आयोग के अनुसार यदि भारत को अगले तीन दशकों में निरंतर 9 से 10 प्रतिशत विकास दर कायम रखना है तो यह अत्यंत आवश्यक होगा कि देश समस्याओं के लिए अभिनव समाधान के उपाय करने में सक्षम हो।
अटल इनोवेशन मिशन और अटल न्यू इंडिया चैलेंज क्या है?
अटल इनोवेशन मिशन एक अटल न्यू इंडिया चैलेंज है। यह नवाचार और उद्यमशीलता की संस्कृति को बढ़ावा देने का एक प्रयास है। जहां सरकार आविष्कारक और डिजाइनरों के लिए अपने नए विचारों के साथ अपने डिजाइन तैयार उत्पादों को पेश करने का अवसर प्रदान कर रही है। इस चुनौती में, सरकार शॉर्टलिस्ट जीतने वाले विचार को 1 करोड़ रुपये का इनाम देगी।

अटल न्यू इंडिया चैलेंज के तहत जहां नवप्रवर्तनकर्ता स्मार्ट मोबिलिटी, रोलिंग स्टॉक और अपशिष्ट प्रबंधन की भविष्यवाणी रखरखाव जैसे 17 पहचान वाले फोकस क्षेत्रों से अपने उत्पाद को लागू करने का विकल्प चुन सकते हैं। प्रतिभागियों के लिए 1 करोड़ रुपये तक जीतने का यह अच्छा मौका है। इसके अलावा, सरकार विजयी विचारों को भी मेंटरशिप भी देगी।

अटल इनोवेशन मिशन के कौन कौन से दो मुख्य कार्य है ?
1. उद्यमिता संवर्धन- सरकार स्व-रोजगार और प्रतिभा उपयोग के माध्यम से नवाचार और उद्यमशीलता की संस्कृति को बढ़ावा देने की कोशिश करेगी, जिसमें नवप्रवर्तनकों को सफल उद्यमियों बनने के लिए समर्थित और मेंटरशिप दी जाएगी
2. अभिनव पदोन्नति- सरकार नवप्रवर्तनको के लिए एक मंच प्रदान करेगी जहां नवप्रवर्तनक नए अभिनव विचार उत्पन्न कर सकते हैं।
यदि एआईएम के लिए किसी भी व्यक्ति के विचार को सूचीबद्ध किया जाएगा तो उसे अपने जीते नए विचार के लिए मेंटरशिप प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा, परियोजना की आवश्यकताओं के अनुसार उन्हें अन्य सुविधाएं मिलेंगी। अटल इनोवेशन मिशन चैलेंज कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के साथ-साथ आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय में पांच अन्य मंत्रालयों में भी लागू किया जाएगा।

अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) सरकार की एक महत्वपुर्ण योजना है इसका दूरगामी प्रभाव देश के विकास पर पड़ेगा।

(अधिक जानकारी के लिए एनआईटीआई आयोग आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं)
Sources: अटल इनोवेशन मिशन एवं पत्र सूचना कार्यालय

Leave a Reply

error: Content is protected !!