‘‘मैं फिर लडूंगी, जीतूंगी, और आगे बढूगी‘‘

 19 दिसंबर को हंगर प्रोजेक्ट द्वारा पंचायत चुनाव हेतु महिला पंचायत सदस्यों व सम्भावित पंचायत उम्मीदवारों के सशक्तिकरण के लिए पंच-सरपंच सम्मेलन का आयोजन किया गया। यह सम्मेलन स्वंय सेवी संस्था सिकोईडिकोन के शीलकी डूंगरी स्थित परिसर में आयोजित किया गया।

           

द हंगर प्रोजेक्ट के श्री वीरेन्द्र श्रीमाली ने बताया कि पंचायत चुनावों को भ्रष्टाचार व हिंसा मुक्त बनाने हेतु वातावरण निर्माण में महिलाओं की भूमिका को सशक्त करने के लिए द हंगर प्रोजेक्ट द्वारा स्वीप अभियान चलाया जा रहा है। उसी अभियान के तहत इस सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में महिला जनप्रतिनिधियों व सम्भावित जनप्रतिनिधियों ने अपने अनुभवों को साझा किया व आगामी पंचायत चुनावों में महिलाओं की भूमिका को सशक्त करने हेतु रणनीति पर गंभीरतापूर्वक विचार किया। राजसमन्द की नगई पंचायत की पंचायत जनप्रतिनिधि श्रीमती अनिता गुर्जर ने बताया कि जब से वे पंचायत प्रतिनिधि बनी है उन्होंने अपने क्षेत्र की महिलाओं को सरकारी योजनाओं से जोड़ा जिसका आज भी वे लाभ ले रही है। उन्होंने कहा ‘‘मैं फिर लडूंगी, जीतूंगी, और आगे बढूंगी‘‘। चाकसू की देहलाला ग्राम पचंायत की सरपंच श्रीमती मूरली मीणा ने बताया कि पंचायत चुनाव के उम्मीदवार के लिए आठवीं पास व दो बच्चों की शर्त विधायकों व सांसदों पर लागू न कर केवल पंचायत प्रतिनिधि के लिए ही लागू करना समानता के विरूद्ध है इसलिए इसे रदद् किया जाना चाहिए। मूरली देवी की इस मांग का उपस्थित सभी प्रतिनिधियों ने एक स्वर से समर्थन किया। सिरोही जिले से आई जनप्रतिनिधि श्रीमती कृष्णा ने अपने अनुभव बताते हुए कहा कि उन्हें जनप्रतिनिधि बनने से पहले जनसेवा के कार्यों का अनुभव नहीं था किन्तु अब जनसेवा के कार्यों से उनकी पहचान बनी है एंव वे अपने अधिकारों के प्रति जागरूक हुई है। चाकसू पंचायत समिति की प्रधान श्रीमती प्रेम देवी मीणा ने महिलाओं से आगामी पंचायत चुनाव में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने हेतु आह्वान किया।

सिकोईडिकोन की निदेषक श्रीमती मंजू जोषी ने बताया कि पंचायतों को पारदर्षी व भ्रष्टाचार मुक्त बनाने में महिलाओं की सक्रिय व सार्थक भूमिका तभी सुनिष्चित होगी जब उन्हें अपने अधिकारों व भूमिका के लिए एक सामूहिक मंच मिलेगा। द हंगर प्रोजेक्ट के माध्यम से यह प्रयास एंक सार्थक दिषा ले रहा है। द हंगर प्रोजेक्ट दिल्ली की कार्यक्रम अधिकारी वेदा भारद्वाज ने महिलाओं के उत्साह जनक भागीदारी के लिए उन्हें बधाई दी व इसी उर्जा के साथ चुनाव में भाग लेने हेतु प्रेरित किया। उन्होंने द हंगर प्रोजेक्ट द्वारा चलाये जा रहे पंचायत प्रतिनिधियों के जागरूकता अभियान में महिलाओं की भागीदारी को एक सकारात्मक सन्केत मानते हुए कहा कि समाज में बदलाव महिलाओं की सक्रिय भागीदारी से ही सम्भव है।

कार्यक्रम के समापन सत्र में उद्बोधन देते हुए राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव श्री सत्यप्रकाष बासवाल ने महिलाओं से आह्वान किया कि आगामी चुनावों में सक्रिय भूमिका का निर्वहन करते हुए महिलाएं इस देष के लोकतंत्र को मजबूत करने में महत्वपूर्ण योगदान दे सकती है।सम्मेलन में राज्य के सात जिलों की 400 से अधिक महिला पंचायत जनप्रतिनिधियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

error: Content is protected !! Plz Contact us 9560775355