ड्रग्स और शराब के धंधे को लेकर एनजीओ ने संगीता कालिया से शिकायत की लेकिन वो एनजीओ पर ही बरस पड़ीं !

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ कहासुनी की विवाद की जड़ एक एनजीओ की शिकायत है। फतेहाबाद जिले में चल रहे शराब और ड्रग्स के अवैध धंधें को लेकर एनजीओ नें एसपी संगीता कालिया से शिकायत किया था, लेकिन कहा जा रहा है कि कालिया उल्टे एऩजीओ पर ही बरस पड़ी।  स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि, ‘एक एनजीओ ने पुलिस से शिकायत की लेकिन वह ( संगीता कालिया) एनजीओ पर ही बरस पड़ीं। उन्होंने कहा कि आप मंत्री से क्यों शिकायत कर रहे हैं जो अपने आप दर्शाता है कि वह सहयोग नहीं कर रही थीं।’ इसके बाद अपने ट्वीट में विज ने कहा कि वह कोई भी कीमत चुकाने को तैयार हैं और प्रशासन के उदासीन रवैये की वजह से पीड़ित लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित करने के लिए बलिदान भी देने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा, ‘मैंने मुख्यमंत्री से बातचीत की है। मैं एक बात साफ करना चाहता हूं कि मैं उन अधिकारियों के खिलाफ लड़ाई जारी रखूंगा जो काम नहीं करते हैं।’ इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली है और कई लोगों ने कालिया का समर्थन किया है। लोगों ने कहा कि मंत्री को संयम बरतना चाहिए था।


गौरतलब है कि विज अपनी मुखर प्रकृति के लिए जाने जाते हैं और अपनी सरकार से भी भिड़ने के लिए जाने जाते हैं। उन्हें ड्रग माफिया और शराब माफिया के सक्रिय होने के बारे में शिकायतें मिल रही थीं। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि मंत्री को महिला अधिकारी के साथ बातचीत करने के दौरान शिष्टाचार का पालन करना चाहिए और उन्होंने महिला पुलिस अधिकारी के खिलाफ उनके बर्ताव की निंदा की। 

Related Article

सुर्खियां

Facebook पर Like करें

Go to top