images/New TRans Logo.png

एनजीओ निर्धारण अधर में होने से नही बंट रहा है आंगनबाड़ी केंद्रों पर हॉटफूड

एटा : बाल विकास एवं पुष्टाहार योजना के अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों पर हॉटफूड पिछले तीन महीने से नहीं बंट रहा है. एनजीओ से हॉटफूड वितरण का काम करवाने को लेकर सरकार द्वारा निर्णय लेने में हो रही देरी के कारण आंगनबाड़ी केंद्रों के लाभार्थियों को आहार नहीं मिल पा रहा है. आहार वितरण का काम पहले मातृ समितियों द्वारा हीं किया जा रहा था, लेकिन योजना क्रियान्वयन के लिए एनजीओ निर्धारण में हो रही विलंब की स्थिति में योजना पूरी तरह बंद है।

आगंनवाड़ी केंद्रों के बच्चों को भी मिड-डे-मील की तरह संचालित हॉटफूड योजना का संचालन पिछले वर्षो भी केवल चार महीने के तक ही हो पाया था. इस साल भी सुधार के बजाय सरकार की नई व्यवस्था की पहल में हो रही देरी के कारण बच्चों को आहार से बंचित होना पड़ रहा है.

एनजीओ के द्वारा ब्लाकवार योजना चलवाने के लिए आवेदन विभाग द्वारा महीनों पहले तो लिया गया है, लेकिन एनजीओ का चयन अभी तक नहीं हो सका है. प्रशासन स्तर पर एनजीओ चयनित किए जाने का मामला अघर मे लटका होने के कारण हॉटफूड योजना का संचालन मातृ समितियों द्वारा भी नही हो रहा है. शासन द्वारा नई व्यवस्था की शुरूआत के निर्णय के कारण बजट रोक दिए जाने से विभाग द्वारा मातृ समितियों से भी योजना का क्रियान्वयन नहीं कराया जा रहा है.

जिला कार्यक्रम अधिकारी बीना सोलंकी का कहना है कि एनजीओ निर्धारण की प्रक्रिया चल रही है, और एनजीओ के चयन प्रक्रिया को पुरा कर योजना का संचालन शासन व्यव्स्था पुर्वक कराया जाएगा.

{adsstarterelite}