शिक्षा मंत्री की चेतावनी के बाद भी मिड-डे मील में कोई खास सुधार नहीं

 जालंधर :  शिक्षा मंत्री की चेतावनी के बाद भी मिड-डे मील की गुणवत्ता और बांटने के समय को लेकर कोई खास सुधार नहीं दिख रहा है। जिले भर में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के आदेशों पर ब्लॉक स्तर पर स्कूलों की चेकिंग करवाई गई। सरकारी व एडिड स्कूलों के बच्चों ने बुधवार को फिर कई स्कूलों में काले चनों में सूंडी व छोटे-छोटे कीड़े मिले तो कई जगह खाना देर से आया।

 नागरा प्राइमरी स्कूल में सब्जी में कीड़े व सुसरी थी, मौके पर पहुंचे जिला परिषद सदस्य रजिंदर सिंह नागरा ने स्कूल में पहुंचे घटिया मिड-डे मील को लिफाफे में सील करके रख लिया। उन्होंने इस घटिया मिड-डे मील को डिप्टी सीएम को दिखाने की चेतावनी दी, जबकि इस बारे में शिक्षा विभाग के चेकिंग दस्ते ने बताया कि 50 फीसद स्कूलों में खाना ठीक नहीं पहुंचा था। मिड-डे मील के प्रदेश इंचार्ज प्रभचरण सिंह के अनुसार मिली रिपोर्टो के आधार पर एनजीओ को चार्जशीट कर दिया है। जल्द ही एनजीओ पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

 

 

शिक्षा मंत्री की चेतावनी के बाद भी मिड-डे मील में कोई खास सुधार नहीं

Key word- मिड डे मील, एनजीओ, जालंधर,NGO,Mid meal, jalandhar

Related Article

सुर्खियां

Facebook पर Like करें

Go to top