मिड डे मील की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए खाद्य विभाग ने अभियान चलाया

नोएडा: सरकार के आदेश पर Mid Day Meal की सतत आपूर्ति को सुनिश्चित करने के लिए गौतम बुद्ध नगर जिले के खाद्य विभाग ने निरीक्षण करने और खाद्य  सामग्री के नमूने  लेने का अभियान शुरू किया है। पिछले एक पखवाड़े में विभाग ने जिले के तीन बेस रसोई घरों से स्कूलों के लिए भोजन की आपूर्ति हेतु पकाये गए भोजन के नमूने लिए।

खाद्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार गौतम बुद्ध जिले में विभिन्न गैर सरकारी संगठनों (NGO) द्वारा 12 बेस रसोई चलाए जा रहे हैं। जिला शिक्षा विभाग ने खाद्य विभाग को स्कूलों में मिड डे मील की पुर्ति करने वाले सभी रसोई घरों की सूची दी है, ताकि समयबद्ध तरीके से इन सभी रसोई का निरीक्षण और खाद्य  सामग्री के नमूने  लिया जा सके।

विभाग द्वारा एक महीने में कम से कम पांच रसोई घरों से जाँच के लिए नमूना लेने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। निरीक्षण और नमूने लेने की कार्यवाही औचक तौर पर छापे मारकर कर किया जाएगा।

मिड डे मील के तैयारी के लिए गैर सरकारी संगठनों द्वारा इस्तेमाल की जा रही कच्चे मालों गुणवत्ता की जांच के लिए भी कच्चे मालों का नमूना विभाग लेगा। कच्चे माल के नमूने को एकत्र करने के बाद विश्लेषण के लिए भेजा जाएगा ताकि यह निर्धारित हो सके कि यह सामग्री हानिकारक तो नही है। घटिया गुणवत्ता वाले कच्चे माल को उच्च क्वालिटी की सामग्री दिखाने के लिए किसी तरह का रंग और पॉलिश के उपयोग की भी जाँच होगी।

अधिकारियों का कहना है कि इस अभियान का उद्देश्य सरकारी संगठनों द्वारा स्वच्छता एवं स्वास्थ्य के लिए बेस रसोई के संचालन में अपनाई जा रही मानकों निरीक्षण करना है। निरीक्षणों के दौरान इस बात कि भी जाँच होगी कि पके हुए भोजन को बेस रसोई से स्कूलों में भेजने हेतु परिवहन में स्वच्छ मानकों के पालन किया जा रहा है या नहीं। 

Leave a Reply

error: Content is protected !! Plz Contact us 9560775355