CBI ने मनरेगा घोटाला में दर्ज की FIR, करीबी NGO को काम देने का आरोप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मनरेगा में करीब 500 करोड़ रुपए घोटाले को लेकर केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा हो रही कारवाई से खलबली मची हुई है। खबर है कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश पर केंद्रीय जांच ब्यूरो ने पांच एफआईआर दर्ज किया हैं। जांच एजेंसी ने जिन 5 जिलों में हुए घोटालों में केस दर्ज किया है उनमें गोंडा, महोबा, सोनभद्र, बलरामपुर व कुशीनगर हैं।  करीब सौ से भी ज्यादा बीडीओ, ग्राम प्रधान और ब्लॉक प्रमुख भी नामजद किए गए, जिनसे भी सीबीआई पूछतांछ कर सकती है। आरोप है कि इन अफसरों ने बेरोजगारों की बजाय करीबियों को काम दिलाया अपनों के एनजीओ को फायदा पहुंचाया ।

हालांकि सीबीआई ने उत्तर प्रदेश के सात जिलों में हुए मनरेगा घोटाले की जांच तो पूरी कर ली थी, लेकिन मुकदमा दर्ज करने से हिचक रही थी क्योंकि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ यूपी सरकार सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में थी । लेकिन अब ये फैसला टल जाने से, सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा की अनुमति से जांच एजेंसी ने अब आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई तेज कर दी है

Leave a Reply

error: Content is protected !! Plz Contact us 9560775355