हाटकुक्ड योजना एनजीओ को दिए जाने से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों में आक्रोश

दोहरीघाट (मऊ) : आंगनबाड़ी केंद्रों पर चल रही हाटकुक्ड योजना एनजीओ के हाथ में जाने से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों में आक्रोश है। बच्चों को मीनू के अनुसार प्रतिदिन भोजन देने की व्यवस्था एक अप्रैल से एनजीओ द्वारा कराने की नीति शासन द्वारा बनाई गई है। संघ ने चेताया है कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की उपेक्षा हुई तो आंदोलन किया जाएगा।

आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ इसे आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के अधिकारों पर सरकार  का कुठाराघात बता रहा है. ब्लाक में 223 आंगनबाड़ी केंद्र हैं जहां लगभग 13 हजार 500 बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा और पौष्टिक आहार दिया जाता है। संघ का कहना है कि आंगनबाड़ी केंद्रों के बच्चे एनजीओ द्वारा दिए गए भोजन से अगर बीमार पड़े तो उसका जिम्मेदार कौन होगा। ब्लाक के सभी  आंगनबाड़ी केंद्रों पर 11 बजे दिन में भोजन सुलभ हो पाएगा या यह व्यवस्था तुगलकी योजना साबित होगी। 

Leave a Reply

error: Content is protected !! Plz Contact us 9560775355