पहल

  • इंफोसिस फाउंडेशन देगा सोशल इनोवेशन अवार्ड्स
  • संयुक्त राष्ट्र में दिखाई जाएगी मानव तस्करी पर आधारित फिल्म 'लव सोनिया'
  • एनजीओ, ट्रस्ट और निजी संस्थानो के लिए निबंधन कार्यालय ने किया ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और संशोधन करने की सुविधा की शुरुआत
  • एनजीओ को साथ मिलकर एसबीआई बैंक शुरु करेगी, SBI यूथ इंडिया फेलोशिप
  • करोड़ों का ऑफर छोड़, एनजीओ से मिले 2.04 करोड़ रुपए से डेढ़ साल पहले मुंबई में एक स्टार्टअप शुरू किया, इरादा अलीबाबा जैसा प्लैटफॉर्म बनाने का

एनजीओ अकाउंट और बैकिंग मैनेजमेंट पर एक्सिस बैंक ने कार्यशाला आयोजित किया, साथ हीं एक्सिस फांउडेशन के बारे में भी जानकारी दी ।

गाजियाबाद के सम्राठ होटल में एक्सिस बैंक द्वारा शनिवार को एनजीओ अकाउटिंग और बैकिंग मैनेजमेंट पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का मकसद एनजीओ को अकाउंट और बैंकिगं से सबंधित अहम जानकारी देना था। एक्सिस बैंक के प्रतिनिधि ने एक्सिस बैंक के द्वारा हाल हीं में लॉंच किए गए ऑनलाईन एप्लीकेशन के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस नई सुविधा से खाता धारकों को ड्राफ्ट बनवाना और आरटीजीएस, एनईएफटी करना अब आसन हो जाएगा, जिसका लाभ एनजीओ को अपने खाते के संचलान और प्रबंधन में मिलेगा । अगर संस्था का खाता एक्सिस बैंक में है तो डोनेशन हेतु संस्था को अलग से गैटवे लेने की जरुरत नही है अब ऐक्सिस बैंक द्वारा निर्धारित शुल्क देकर संस्था ऐक्सिस बैंक हीं इस तरह की सुविधा ले सकती है ।

कार्यशाला में मेक इन इंडिया किताब के लेखक और पेशे से चार्टड अकांउटेंट सुनिल कुमार गुप्ता ने संस्थाओं को एफसीआरए, 80 जी और 12 ए के साथ-साथ एकांउट संबंधित कई महत्वपुर्ण बिन्दुओं को काफी सरल ढंग से बताया। उन्होंने एनजीओ और ट्रस्ट में अंतर को समझाया, और एफसीआरए अकाउंट मैनेटेमेंट और एनजीओ के अन्य अकाउंट का मैनेजमेंट कैसे करना चाहिए इसे भी स्पष्ट तरीके से समझाया, ताकि संस्थाओं से अनजाने में कोई बैकिंग, आयकर, सेवाकर और विदेशी सहायता राशी संबधित भूल न हो सके।

उन्होंने एफसीआरए रिटर्न के सवाल को लेकर बताया कि अगर संस्था ने एफसीआरए लिया है और संस्था ने इस खाते में कोई अनुदान नहीं भी लिया हो, तो भी संस्था के लिए रिट्रन भरना जरुरी है, साथ ही एफसीआरए के तहत प्राप्त अनुदान को केवल उसी प्रोजेक्ट में खर्च किया जाना चाहिए जिसके लिए वह अनुदान राशी प्राप्त किया गया हो, एफसीआरए वाले बैंक अकाउंट के केवल एफसीआरए अनुदान के लिए ही उपयोग किया जा सकता है।

कार्यशाला के दौरान एक्सिस बैंक के वाईस प्रसिडेंट, श्री पी के गुप्ता ने कहा कि देश निर्माण में एनजीओ अहम योगदान दे रहा है । श्री गुप्ता ने एक्सिस बैंक के द्वारा किए जा रहे सामाज कल्याण के कार्यक्रमों के बारे में भी बताया। उन्होंने एक्सिस फाउंडेशन के साथ मिलकर समाजसेवी संस्थांए किन-किन क्षेत्रों में काम कर सकती हैं इसके बारे में  भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बैंक के मुम्बई स्थित शाखा से सीएसआर के तहत मिलने वाली अनुदान के बारे मैं विस्तार से जानकारी लिया जा सकता है। बैंकों द्वारा बचत खाता खोलने में आनाकानी करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि एक्सिस बैंक एनजीओ के बचत एंव चालु खाता खोलने की सुविधा नियमानुसार देती है, इस संबंध में स्थानीय शाखा से मिलकर जानकारी लिया जा सकता है।

कार्यशाला में अत्तदिपा फांउडेशन के चैयरमैन श्री वी. के सिंह, डॉ. भीम राव अम्बेडकर शिक्षा समिति के अध्यक्ष श्री बीर सिंह, सहित कई जानीमानी संस्थाएं, ट्रस्ट और शैक्षणिक संस्थानों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया ।

एक्सिस बैंक के विभिन्न शाखाओं के ब्रांच प्रबंधक सहित बैंक के वरिष्ठ अधिकारीगण भी कार्यशाला में उपस्थित थे । एनजीओ के प्रतिनिधियों ने एक्सिस बैंक को इस तरह के कार्यक्रम का आयोजन करने के लिए धन्यवाद किया। संस्थाओं ने एक्सिस बैंक के वाईस प्रसिडेंट, श्री पी के गुप्ता से अनुरोध किया कि बैंक द्वारा समय-समय पर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करते रहना चाहिए ताकि बैंक और गैर सरकारी संस्थाओं का समन्वय बना रहे औऱ समाज के विकास सहयोगी बनें, श्री गुप्ता ने संस्थाओं के भविष्य में इस तरह के कार्यक्रमों के आयोजन का भरोसा दिया।

Related Article

सुर्खियां

Facebook पर Like करें

Featured Organization

ADD YOUR NGO

in NGOs list 

  भारतीय एनजीओ की सूची 

Go to top