केंद्रीय सामाजिक कल्याण बोर्ड (CSWB) ने एनजीओ की अनुदान राशि को दो से तीन गुना बढ़ाया, अप्रैल/मई 2014 से लागू : डॉ. प्रेमा करियप्पा

मैसूर : केंद्रीय सामाजिक कल्याण बोर्ड  के तहत एनजीओ द्वारा चलाई जा रही परियोजनाओ की अनुदान राशि में संशोधन किया गया है, और संशोधित अनुदान राशि अप्रैल/मई 2014 से लागू हो जाएगा. बोर्ड  की अध्यक्षा डॉ. प्रेमा करियप्पा ने बंगलौर में स्वैच्छिक संगठनों के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्घाटन सामारोह के दौरान कहा.

एनजीओ को आंगनबाड़ी क्रेच सेंटर्स चलाने के रूप में जो धनराशि  मिल रही है वह पर्याप्त नहीं हैं इससे सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने में समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा, कम वेतन होने से समाज कल्याण विभाग द्वारा चलाए जा रहे सलाह केन्द्रों में सलाहकारों की कमी भी होती है। सलाहकारो को जो भुगतान किया जा रहा है वह राशि निजी संस्थाओं द्वारा की जा रही पेशकश की तुलना में काफी कम है। 

अनुदान राशि बढ़ान की मांग को देखते हुए केंद्रीय समाज कल्याण मंत्रालय ने आंगनबाड़ी क्रेच सेंटरों को मिलने वाली मौजूदा अनुदान राशि को तीन गुना से भी ज्यादा बढाकर 42,000 रुपये से 1,52,000 रुपये प्रति वर्ष करने का फैसला किया है। वहीं अब शहरी क्षेत्रों में सलाहकारों को 13500 रु. का भुगतान किया जाएगा जबकि मौजूदा वेतन केवल 7000 रुपये हीं है. दस दिनों तक चलने वाली अवेरनेश जेनरेशन प्रोग्राम की अनुदान राशि को भी दुगुना बढा दिया गया है, वर्तमान में यह  अनुदान 10,000 रुपये है जो कि बढ़कर 20,000 रुपये हो गया है।

डॉ. प्रेमा करियप्पा ने कहा  कि बोर्ड एनजीओ के साथ मिलकर देश भर में जागरूकता पैदा करने के लिए अवेरनेश जेनेरेशन प्रोग्राम का आयोजन करती है। इस जागरूकता प्रोग्राम के तहत महिलाओं को विभिन्न मंत्रालयों द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम तथा अन्य मुद्दों के प्रति जागरुक करते रहते है.

पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नेतृत्व में इस बोर्ड की स्थापना की गई थी। जब से इसकी स्थापना हुई है तभी से यह बोर्ड सामाजिक कल्याण से संबंधित मुद्दे जेसे बाल विवाह, दहेज हत्या, मादा भ्रूण हत्या और अन्य सामाजिक बुराइयों के खिलाफ पर काम कर रही है। डॉ. करियप्पा ने बोर्ड द्वारा सामज कल्याण के लिए किए जा रहे कई अन्य कार्यें से भी अवगत कराया.

 

Related Article

ADD YOUR NGO

in NGOs list 

  भारतीय एनजीओ की सूची 

Go to top