राजधानी दिल्ली संस्था जेजे इंटरप्र्राइज द्वारा बांटे गए मिड डे मील में छिपकली, एनजीओ का अनुबंध रद्द करने की प्रक्रिया आरंभ ।

राजधानी दिल्ली में 3 सितम्बर को स्कुलों में बटने वाले मिड डे मील में छिपकली मिलने से हड़कंप मच गया। अगर समय रहते मिड डे मील में छिपकली मिलने के बारे में पता नहीं चलता तो कई मासुमों की जान खतरे मे पड़ जाती। खैर एक बड़ा हादसा टल गया। संस्था के जिस रसोई में बनाए गए मिड डे मील में छिपकली मिली है उस रसोई में 15 स्कूलों के बच्चों खाना बनकर जाता है। 

सुबह साढ़े 10 बजे मिड डे मील स्कूल पहुंचने पर स्कूल के एक शिक्षक ने दाल-चावल की जांच की तो उसमें मरी हुई छिपकली मिली। प्रधानाचार्य ने तत्काल ही घटना जानकारी उच्च अधिकारियों को दिया। अधिकारियों ने उन सभी स्कूलों में फोन करके मिड डे मील परोसने से रोक दिया, जिनमें जेजे इंटरप्र्राइज की ओर से मिड डे मील उपलब्ध कराया जाता है। 

दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने पुष्प विहार सेक्टर-तीन स्थित नगर निगम के स्कूल के अलावा अन्य 14 स्कूलों में बच्चों को मिड डे मील उपलब्ध कराने के लिए जेजे इंटरप्र्राइज के साथ अनुबंध कर रखा है। शिक्षा विभाग ने इस घटना की जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं, इसके अलावा घटना की पुलिस के समक्ष शिकायत की गई है। मिड डे मील परोसने वाले वाली एनजीओ का अनुबंध रद्द करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है

 

राजधानी दिल्ली संस्था जेजे इंटरप्र्राइज द्वारा बांटे गए मिड डे मील में छिपकली, एनजीओ का अनुबंध रद्द करने की प्रक्रिया आरंभ ।

Related Article

सुर्खियां

ADD YOUR NGO

in NGOs list 

  भारतीय एनजीओ की सूची 

Go to top